Just Bollywood
But With A Diffrence

रियलिटी शोज की रियलिटी जानकर आप भी हो जाएंगें परेशान

193

टेलिविजन ना सिर्फ मनोरंजन बल्कि शिक्षा पाने का भी सबसे अच्छा साधन हैं इसमें दिखाए जाने वाले कई शोज के जरिए समाज को एक नई दिशा मिलती हैं.लेकिन हाल ही में आज ऐसा कोई टीवी चैनल नही हैं जिसमें कोई रियलिटी शो ना आ रहा हो. हालांकि इन रियलिटी शो में कितना सच औऱ कितना झूठ दिखाया जाता हैं इस बात का अनुमान लगा पाना मुश्किल हैं.जिससे की समाज मे नकरात्मक प्रभाव पड़ रहा हैं दरअसल इन रियालिटी शो में दिखाई जानी वाली विषयवस्तु युवाओं के दिलों दिमाग पर गहरा असर छोड़ती हैं.कई बार तो आम दर्शक कल्पना भी नही कर पाते कि जो वो देख रहे हैं असलियत में वैसा कुछ नही हैं क्योंकि रीयल लाइफ में रियालिटी शो के कलाकारों को कई तरह की कठिनाइयों का सामना करना पड़ता हैं.वर्तमान में भारत में चल रहे रियसिटी शो अग्रेंजी टीवी कार्यक्रमों की नकल और उनकी कहानी से मिले जुले हैं जो कि भारतीय संस्कृत को कहीं ना कही हानि पहुंचा रहे हैं.

छोटे पर्दे का सबसे विवादित टीवी शो बिग बॉस अंग्रेजी टीवी के हु वांट्स टू बी ऐ मिलेनियर की प्रतिरुप हैं जो कि हमारी सभ्यता औऱ संस्कृति के अनुसार नही हैं. तो वहीं इस बात पर गौर करना बेहद जरुरी हैं कि टीवी का मुख्य उद्देश्य लोगों को मनोरंजन के साथ-साथ उन्हें शिक्षित करना भी बेहद जरुरी हैं लेकिन रियलिटी शो को देखकर किसी तरह का उद्देश्य पूर्ण होता दिखाई नही दे रहा हैं.तो वहीं पिछले कुछ सालों में इस तरह के टीवी शa की सूची बनाई गई जिसके प्रसारण करने का समय रात 11 बजे से सुबह 5 बजे के मध्य करने का फैसला लिया गया था.वैसे देखा जाएं तो आज छोटा पर्दा महज पैसा कमाने का एक जरिया बन गया हैं लेकिन चंद पैसों के लालच में नैतिकता औऱ आदर्शों को भूल जाना गल्त होगा.तो वहीं भारत के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय को चाहिए कि वो इस प्रकार के कार्यक्रमों को प्रसारित करने की अनुमति दे, जिसे घर के सभी सदस्य एक साथ बैठकर देख सके.

Loading...

Comments are closed.