Just Bollywood
But With A Diffrence

बॉलीवुड में दोस्ती पर बनी ये फिल्में आपके दिल को छू जाएगी

131
Bollywood Movies On Friendship
Bollywood Movies On Friendship

समाज में पारिवारिक रिश्तों के अलावा भी एक रिश्ता होता हैं औऱ वो हैं दोस्ती का रिश्ता; विश्वास पर टिका ये अद्भुत ये रिश्ता बेहद ही खूबसूरत होता हैं.जिंदगी में अगर खूबसूरत दिनों की बात की जाएं तो ये वो ही पल होंगे जो हमनें अपने दोस्तों के साथ बिताएं हैं.तो वहीं बॉलीवुड भी इस खूबसूरत रिश्ते को दिखाने में नही चूका और बना डाली दोस्तों की दोस्ती पर कई फिल्में.इन फिल्मों ने ना सिर्फ बॉलीवुड में धमाल मचाया बल्कि दोस्ती की एक नई मिसाल भी पेश कर डाली.तो चलिए जानते हैं दोस्ती पर बनी इन शानदार फिल्मों के बारे में औफ अगर अपने फिल्में नही देखी तो जनाब जल्दी से अपने दोस्तों के साथ ये फिल्में देखने का प्लान बनाएं और ताजा करें अपनी दोस्ती के यादगार लम्हों को.
शोले
बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन और प्रख्यात अभिनेता धर्मेंद्र की ब्लॉकबस्टर फिल्म ‘शोले गब्बर-ठाकुर की दुश्मनी और जय-वीरू की दोस्ती की कहानी इसी फिल्म का एक हिस्सा है.हो ना हो पर शोले अविश्वसनीय फ़िल्म है जो किसी लोकगीत की तरह लोगों के दिलों में बस गई है.Sholay

दिल चाहता हैं
फिल्म दिल चाहता हैं में तीन कूल दोस्त आकाश, समीर और सिद्धार्थ की जोड़ी देखने को मिलेगी.वैसे इस बात में कोई दो राय नही कि अगर दोस्त अच्छे औऱ सच्चे हो तो कठिन से कठिन सफर भी जल्दी पार हो जाता हैं.ये फिल्म इतनी अच्छी हैं कि इसे जब भी देखो तभी दोस्ती का नशा सिर चढ़कर बोलता हैं.dil chahta hai

कुछ कुछ होता हैं
दोस्ती कब प्यार में तब्दील हो जाएं कुछ कहा नही जा सकता.इस फिल्म में एक बार फिर इस फिल्म में शाहरुख औऱ काजोल की सफल जोड़ी देखने को मिली. इस फिल्म की कहानी कुछ कुछ अंग्रेज़ी फिल्म “माय बेस्ट फ़्रेंड’स वेड्डिंग की याद दिलाती है” तो वहीं इस फिल्म ने देश में फ्रेंडशिप बैंड को लोकप्रियता दिलवाई.

कुछ कुछ होता हैं
कुछ कुछ होता हैं

रॉक ऑन
दोस्ती की बात हो ओर रॉक ऑन फिल्म को याद ना किया जाए तो शायद गल्त होगा.इस फिल्म में गल्तफहमी के चलते 4 दोस्तों में दरार आ जाती हैं लेकिन एक समय ऐसा आता हैं जब इनकी सच्ची दोस्ती कसौटी पर खरी उतरती हैं.

Rock On 4
Rock On 4

जिंदगी न मिलेगी दोबारा
इस फिल्म को देखने के बाद ये अहसास होता हैं कि जिंदगी में दोस्तों का होना बहुत अहम हैं. इस फिल्म से यही मैसेज मिलता हैं कि जो हर तकलीफ में साथ रहे वो ही सच्चा दोस्त होता हैं.

 

Loading...

Comments are closed.