Just Bollywood
But With A Diffrence

करण जौहर की फिल्म में ये रोल नहीं करना चाहता कोई भी एक्टर

68

बॉलीवुड में होमोसेक्शुअल किरदारों को निभाना हमेशा मुश्किल रहा है. बोल्ड किरदार होने की वजह से जल्दी कोई तैयार नहीं होता. ऊपर से हमारे देश में होमोसेक्शुएलिटी एक टैबू है जिसे बीमारी माना जाता रहा है. इन सब वजहों से ये एक अनटच्ड सब्जेक्ट रहा है जिसे कोई छूना नहीं चाहता. करण जौहर ने भी ख़ुलासा किया था कि कपूर एंड सन्स में फ़वाद ख़ान का किरदार पहले कई एक्टर्स को ऑफ़र किया गया था लेकिन कोई भी इसे करने को राज़ी नहीं हुआ. एक नज़र डालते हैं किन किरदारों ने नहीं निभाया होमोसेक्शुअल किरदार

सैफ़ अली ख़ान

ऋतिक रौशन

आदित्य रॉय कपूर

फ़रहान अख़्तर

शाहिद कपूर

वहीं कुछ ऐसे भी एक्टर्स रहे हैं जिन्होंने होमोसेक्शुअल किरदारों को बिना किसी झिझक के बहुत ख़ूबसूरती से निभाया. उन चुनिंदा एक्टर्स पर नज़र डालते हैं जिन्होंने निभाए ऐसे किरदार

मनोज बाजपेयी

Manoj Vajapyee

मनोज ने हंसल मेहता की फ़िल्म अलीगढ़ में एक गे प्रोफ़ेसर की भूमिका बेहद संवेदनशीलता के साथ निभाई. इस मुश्किल रोल के लिए मनोज की ज़बरदस्त तारीफ़ हुई थी.

फ़वाद ख़ान

Fawad Khan future plans

कपूर एंड सन्स में फ़वाद एक परफ़ेक्ट बेटे, एक परफ़ेक्ट आदमी के रोल में थे. बाद में मालूम चलता है कि फ़वाद अपनी असलियत को सबसे छुपा कर रख रहे हैं. इस फ़िल्म की जान था फ़वाद का गे किरदार.

अक्षय कुमार

फ़िल्म ढिशुम में अक्षय ने एक कैमियो किया था जो एक गे किरदार था. ये एक मज़ेदार और फ़नी किरदार था जो फ़िल्म में कॉमेडी डोज़ के लिए डाला गया था.

रणदीप हुड्डा

Randeep_Hooda hospitlized

रणदीप ने फ़िल्म बॉम्बे टॉकीज़ में एक गे किरदार को निभाया था जोकि एक आम मर्द की तरह रहता है और शादीशुदा भी है. होमोसेक्शुअल लोगों को जिस तरह दोहरी ज़िंदगी जीनी पड़ती है रणदीप ने उस कश्मकश को उम्दा तरीक़े से पर्दे पर उकेरा था.

Loading...

Comments are closed.